authentic sports jerseys cheap
cheap authentic stitched nfl jerseys
Monday , 17 December 2018
Breaking News

मजीठिया वेज बोर्ड का लाभ मिलना संभव नहीं – के. विक्रम राव पीडित पत्रकारों को ठगा गया।

IMG-20160703-WA0092जयपुर। इण्डियन वर्किंग युनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष के.विक्रम राव ने शंका जाहिर करते हुए कहा कि मजीठिया वेज बोर्ड का लाभ संघर्षरत मीडियाकर्मियों को मिल पाना संभव नही लगता है। राव ने उक्त आशंका राजस्थान के प्रांतिय सम्मेलन को आडियो कान्फ्रैन्स के जरिए संबोधित करते हुए व्यक्त की। उन्होंने कहा कि मजीठिया वेज बोर्ड से वंचित मीडियाकर्मी कानूनी दांवपेच में फंस कर रह गए हैं,जिनके समक्ष बेरोजगारी के सिवा कोई दुसरा विकल्प नही बचा है। का. राव ने स्पष्ट किया कि आईएफडब्ल्यूजे को नए सिरे से लम्बी लड़ाई मजीठिया वेज से वंचितों को न्याय दिलाने के लिए लडऩे की तैयारी करनी होगी। जिसके लिए संगठन एक विशेष सम्मेलन आयोजित कर आंदोलन की रूप रेखा तैयार करेगा।
IMG-20160703-WA0069उन्होंने कहा कि उन्हे लगता है कि पीडि़त मीडियाकर्मियों को न्याय दिलाने के नाम पर ठगा गया है। जयपुर में जवाहरलाल नेहरू मार्ग स्थित इंदिरा गांधी पंचायती राज संस्थान के मिटिंग हाल में आयोजित आईएफडब्ल्यूजे के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश नारायण जैमन की अध्यक्षता में राज्य की 24 जिला इकाईयों के अध्यक्ष महासचिवों की मौजूदगी में संगठन को मजबूत करना, पत्रकारों की सुरक्षा,आवासीय, पेन्शन, चिकित्सा सुविधा के साथ-साथ

आईएफडब्ल्यूजे जयपुर जिला अध्यक्ष प्रेम शर्मा को प्रान्तीय सम्मेलन संबोधित करते हुए

आईएफडब्ल्यूजे जयपुर जिला अध्यक्ष प्रेम शर्मा को प्रान्तीय सम्मेलन संबोधित करते हुए

मजीठिया वेज बोर्ड के लम्बित प्रकरणों को लेकर एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई।
सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए वरिष्ठ पत्रकार एवं पिंकसिटी प्रेस क्लब के अध्यक्ष विरेन्द्र सिंह राठौड ने कहा कि वे यूनियन के सिपाही है,जब भी उनकी आवश्यकता होगी वे मीडियाकर्मियों के लिए सघर्ष के लिए तैयार है। इन्ही के सहयोगी क्लब के महासचिव मुकेश चौधरी ने कहा कि राज्य में यूनियन को मजबूत करने के लिए वे अपने युवा साथियों को प्रोत्साहित करेगें, जिसके लिए जरूरत पडऩे पर वे राज्य के सभी जिलों का दौरा करने को तैयार है। क्लब के दोनो पदाधिकारियों के साथ उनकी कार्यकारिणी के सदस्य मुकेश चौधरी, वसीम कुरैशी व राहुल भारद्वाज मौजूद थे।
बैठक के दौरान सूचना मिलने के साथ वरिष्ठ पत्रकार पूर्व प्रेस क्लब उपाध्यक्ष सुश्री निरूपमा ओदिच्य के पिता एवं पत्रकार साथी प्रेस क्लब निदेशक जूही के दादा सुन्दर लाल ओदीच्य (पूर्व निदेशक, एम्पलायमेंट)के निधन पर दो मिनिट का IMG-20160703-WA0073मौन रख कर दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना की गई।
सम्मेलन में आए आईएफडब्ल्यूजे के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष एवं वर्तमान में राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष पत्रकार आनन्दपाल सिंह तोमन ने कहा कि वे राजनीति में इसी संगठन के सदस्य रहते हुए गए हैं। उन्होंने कहा कि पत्रकारों की कोई भी समस्या और आन्दोलन हुआ तो वे अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव के साथ पूरे दलबल सहित

आईएफडब्ल्यूजे के वरिष्ठतम प्रदेश उपाध्यक्ष शंकर नागर

आईएफडब्ल्यूजे के वरिष्ठतम प्रदेश उपाध्यक्ष शंकर नागर

पत्रकारों के साथ है। तोमर ने इस दौरान स्पष्ट किया कि केन्द्र सरकार ने जो विज्ञापन नीति समाचार पत्रों के लिए बनाई है उसके विरोध में उनकी पार्टी सहयोगी दलों के साथ पत्रकारों के लिए हर सघर्ष को तैयार है।
वरिष्ठतम पत्रकार अनिल दाधीच ने अपने उद्बोधन में परमानन्द पाण्डे व हेमन्त तिवारी का नाम लिए बिना कहा कि राज्य में आईएफडब्ल्यूजे संगठन का मीडियाकर्मियों में जनाधार है कुछ तथाकथित पत्रकार जो धन्धेबाज है वे इसी के नाम से अपनी दुकान चलाने की असफल कोशिश जयपुर में कर चुके हैं, जो सरकार तो संगठन के नाम पर मूर्ख बनाने में IMG-20160703-WA0082सफल हो गए, लेकिन प्रदेश के पत्रकारों की नफरत के शिकार भी हो गए। ऐसे लोगों से बच कर पत्रकार हितों के कार्य करते हुए उन्हें समय के साथ बेनकाब करना होगा।
सम्मेलन में उपस्थित राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उपेन्द्र सिंह राठौड ने बताया कि संगठन की जड़े पूरे पश्चिमी राजस्थान में अपनी पकड बना चुकी है,जिसके चलते दो साल पहले उन्होंने संगठन का राष्ट्रीय सम्मेलन जैसलमेर में आयोजित किया था। प्रदेश में संगठन की कार्यक्षमता को देखते हुए सितम्बर माह में तीन दिवसीय IMG-20160703-WA0080राष्ट्रीय का आयोजित है,जिसमें देश-विदेश के करीब 500 पत्रकार शिरकत करेंगे।
सम्मेलन में प्रदेश महासचिव एसएन गोतम ने केन्द्र सरकार की ओर से लागू होने वाली नई विज्ञापन नीति पर चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि इसके लागू होने से लघु,मध्यम,पाक्षिक व साप्ताहिक समाचार पत्र बंद हो जाएंगे,जिसका प्रभाव संभाग व जिला स्तर के पत्रकारों पर पड़ेगा।
हनुमानगढ के जिला अध्यक्ष राजकुमार नागल ने अगली प्रान्तिय बैठक नोहर में IMG-20160703-WA0087आयोजित करने का प्रस्ताव रखा,जिस पर बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लेते हुए 20-21 अगस्त को प्रदेश के जिला अध्यक्षों के साथ प्रदेश ईकाई की अगली बैठक नोहर में प्रस्तावित की।
प्रदेश भर से आए जिला अध्यक्षों ने सम्मेलन में अपने विचार रखे जिनमें प्रमुख थे जयपुर से प्रेम शर्मा, उदयपुर से डा. मुनीष अरोडा, भरतपुर से उमेश लवानियां, हनुमानगढ से महामंत्री विद्याधर मिश्र, करौली के देवीसहाय, टोंक के निर्भय गुर्जर, कोटो के सचिव रजत खन्ना, बून्दी के रमेश शर्मा, बीकानेर से के.के.सिंह, जोधपुर से प्रलयंकर जोशी, धोलपुर के गोपेश पचौरी ने अपने अपने जिले में पत्रकारों की समस्या पर ध्यानाकर्षण किया।
कार्यक्रम का संचालन करते हुए वरिष्ठ पत्रकार सत्य पारीक ने संघ शक्ति का नारा देते हुए कहा कि राज्य में संभाग, जिलों से लेकर तहसील स्तर तकIMG-20160703-WA0071 आईएफडब्ल्यू जे का परचम लहराने के प्रयास शुरू हुए हैं जो सफल होगे। पारीक ने इस अवसर पर घोषणा की कि जो जिला ईकाई प्रांतिय सम्मेलन का आयोजन अपने जिले में करेगी उसे बतौर सहयोग ग्यारह सौ रूपए की सहायता राशि उनकी ओर से उपलब्ध कराई जाएगी।
सम्मेलन में राज्य के वरिष्ठतम फोटो जर्नलिस्ट सुरेन्द्र जैन पारस को सम्मानित किया गया। सम्मेलन में प्रदेश से आए सभी मीडियाकर्मियों को प्रेस क्लब की कार्यकारिणी ने आमंत्रित कर सम्मानित किया। सम्मेलन का विशेष रूप से IMG-20160703-WA0055कवरेज कर वरिष्ठ छायाकार महेश आचार्य ने अपने कैमरे के कमाल को सोशल मिडिया पर शेयर किया। सम्मेलन का समापन राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य बाबुलाल भारती के लगाए आईएफडब्ल्यूजे के नारे के साथ हुआ।
सम्मेलन में वरिष्ठतम पत्रकार अनिल दाधीच, प्रेस क्लब अध्यक्ष वीरेन्द्र सिह राठौड, महासचिव मुकेश चौधरी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उपेन्द्र सिह राठौड,राष्ट्रीय कार्य समिति पार्षद बाबुलाल भारती का प्रदेश ईकाई की ओर सम्मान करते हुए दुशाला भेट किया गया।
नया रिकार्ड : जयपुर में आयोजित प्रान्तीय सम्मेलन में पत्रकारों के संगठन में पहली बार एकजुटता देखने को मिली। राज्य की 24 जिला ईकाई प्रमुख और महासचिव एक छत के नीचे बिना किसी दबाव के आए। सम्मेलन में किसी नेता,अधिकारी को आमंत्रित नहीं किया गया। एक छोर से दूसरे छोर को इस सम्मेलन ने कवर किया। जैसलमेर से लेकर गंगानगर तो बीकानेर से लेकर धोलपुर व कोटा झालावाड तक के पत्रकारों ने पत्रकार हितों को लेकर एक मंत्र पर आकर प्रदेश में एक मिशाल कायम की।

About editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

How Hold Your Hockey Jerseys Clean
Good Choice Of Football Kits
Create Your Own Custom Football Jerseys
Sports Themed Bedrooms - Football Bedroom Design Idea For Boys
Stylish Steelers Jerseys For Casual Wear
Buy An Authentic Nfl Jersey Or A Reproduction One?
Ravens Helped The Jaguars To Absolve The Five Game Losing Streak
Admired Gambling Jerseys For All
Mlb Media Is An Investor's Best Friend
Football Jerseys Hunt
cheap jerseys
wholesale jerseys
cheap nfl jerseys
wholesale jerseys
cheap nba jerseys
wholesale nba jerseys
nba jerseys cheap
cheap jerseys