authentic sports jerseys cheap
cheap authentic stitched nfl jerseys
Wednesday , 23 January 2019
Breaking News

US: 9/11 के बाद बड़ा आतंकी हमला – नवभारत टाइम्स

– 9/11 के बाद अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के पास पहला बड़ा हमला

– पुलिस ने हमलावर को गोली मारी, इलाज जारी, होश में आने का इंतजार

– ट्रंप बोले, विदेशी नागरिकों की कड़ी जांच होगी, IS समर्थकों को खदेड़ेंगे

———————————-

एजेंसियां, न्यू यॉर्क

आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) से प्रभावित उज्बेकिस्तान के एक व्यक्ति ने न्यू यॉर्क के मैनहट्टन में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के पास भीड़भाड़ वाले साइकल पथ पर ट्रक दौड़ा दिया। इसमें आठ लोगों की मौत हो गई और 11 अन्य जख्मी हो गए। अमेरिकी सरकार ने इसे आतंकी हमला बताया है। न्यू यॉर्क में 9/11 की घटना के बाद यह पहला बड़ा आतंकी हमला है। 11 सितंबर 2001 को यहां के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए हमले में हजारों लोग मारे गए थे।

पुलिस ने मारी गोली

मंगलवार को हुई घटना के बाद 29 साल के हमलावर के पेट में एक पुलिस अफसर ने गोली मार दी। घायल होने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। हालांकि, खबर लिखे जाने तक वह हॉस्पिटल में ऐडमिट था, जहां उसकी सर्जरी की जा रही थी। डॉक्टरों ने कहा है कि वह बच जाएगा। हमलावर का नाम सैफुल्लू सेईपोव है, जो एक प्रवासी है। वह 2010 में अमेरिका आया था। ट्रक चलाने से पहले वह उबर कंपनी में कैब ड्राइवर भी था।

हमले की चौतरफा निंदा

पीएम मोदी सहित दुनियाभर के नेताओं ने इस हमले की निंदा की है। अमेरिकी प्रेजिडेंट डॉनल्ड ट्रंप ने कहा, ‘अब अमेरिका आने वाले विदेशी नागरिकों की जांच और कड़ी होगी। घरेलू सुरक्षा विभाग को इसके निर्देश दिए गए हैं। अब बहुत हो गया। हम आईएस को कई जगहों पर हरा चुके हैं, अब उसका समर्थन करने वाले लोगों को भी देश से खदेड़ देंगे।’

मैनहट्टन न्यू यॉर्क शहर का बेहद घनी आबादी वाला इलाका है। इस इलाके में हाइवे के किनारे पर बने एक साइकल लेन पर हमलावर ट्रक लेकर घुस गया। हमलावर करीब आधा किमी तक लोगों को कुचलते हुए आगे एक स्कूल बस से भिड़ गया। ट्रक के फंस जाने के कारण वह बंदूक लेकर उतरा और ‘अल्ला हू अकबर’ बोलते हुए लोगों पर गोलियां बरसाने लगा। ट्रक से कुचलने से आठ लोग मारे गए और 11 घायल हो गए। मारे गए लोगों में बेल्जियम का एक और अर्जेंटिना के पांच नागरिक शामिल हैं। अर्जेंटिना के मारे गए पांचों लोग दोस्त थे। वहीं, जिस स्कूल बस से ट्रक टकराया, उसमें मौजूद दो बच्चे और दो टीचर भी घायल हो गए।

ट्रक से एक नोट मिला

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि हमलावर ने न्यूजर्सी के होम डिपो से ट्रक किराए पर लिया। इस ट्रक से अंग्रेजी में लिखा एक नोट मिला है। इसमें लिखा हुआ है कि यह हमला आतंकी संगठन आईएस के कहने पर किया गया है। अमेरिका की एफबीआई व अन्य जांच एजेंसियां हमले की जांच में जुट गई हैं। इस बीच, उबर कंपनी ने कहा है कि हमलावर हमारे यहां भी काम कर चुका है, हम जांच में एफबीआई का सहयोग करेंगे।

———————————-

भूत बने लोग डर से रोने लगे

अमेरिका में जिस वक्त यह हमला हुआ, लोग हैलोवीन का जश्न मना रहे थे। सड़कों पर भूत की पोशाक पहनकर घूम रहे थे। घटनास्थल के पास ही सभी रास्तों पर विभिन्न तरह की पोशाकें पहने बच्चे रैलियां निकाल रहे थे। हालांकि, ट्रक बच्चों की ओर नहीं मुड़ पाया, नहीं तो कई मासूमों की जान चली जाती।

—–

तीन बच्चों का पिता है हमलावर

हमलावार सैफुल्लो हबीबुल्लाएविक उज्बेकिस्तान से 2010 में लॉटरी वीजा कार्यक्रम के तहत अमेरिका आया था। वह अमेरिकी राज्य फ्लॉरिडा में रह रहा था। उसे ट्रक और कैब ड्राइविंग का लाइसेंस मिला हुआ था। उसने 2013 में अमेरिका में ही रहने वाली एक उज्बेक लड़की से शादी की थी। दोनों के तीन बच्चे हैं।

————–

क्यों बढ़े ट्रक हमले

2014 से यूरोप और अमेरिका में ट्रकों और कारों से कुचलने वाले 15 आतंकी हमले हो चुके हैं। इनमें कुल 142 लोग मारे गए हैं। चूंकि सुरक्षा व्यवस्था कड़ी होने के कारण आतंकी हथियारों का इंतजाम नहीं कर पाते इसलिए आईएस जैसे संगठन ट्रक किराए पर लेकर लोगों को कुचलने की रणनीति को अपना रहे हैं।

——

डिग्री लेने आए, जान गई

आतंकवादी हमले में मारे गए आठ लोगों में से पांच अर्जेंटीना के नागरिक थे। पांचों अच्छे दोस्त थे। उन्होंने न्यू यॉर्क के पॉलीटेक्निक स्कूल ऑफ रोसारियो से पढ़ाई की है। वे अपने ग्रैजुएट समारोह का जश्न मना रहे थे। आसपास मौजूद लोगों ने कहा कि तेजी से ट्रक आता देख पांचों एक-दूसरे का हाथ पकड़ कर भागने लगे, लेकिन वे ट्रक के नीचे आ गए।

————————————

न्यू यॉर्क टाइमलाइन

– करीब 3:05 बजे हमलावर ट्रक चलाते हुए न्यू यॉर्क के मैनहट्टन में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के पास एक फुटपाथ में घुसा

– ड्राइवर तेजी से साइकल वालों और पैदल चल रहे लोगों को कुचलते हुए आगे बढ़ना लगा

– करीब आधा किमी के बाद ट्रक एक स्कूल बस से भिड़ गया। स्कूल बस में दो बच्चे घायल हो गए

– ट्रक रुक जाने के कारण हमलावर बंदूक लेकर बाहर निकला और ‘अल्ला हू अकबर’ चिल्लाने लगा

– एरिया में तैनात पुलिस अफसर ने हमलावर के पेट में गोली मार दी और पकड़ लिया

– 29 साल का हमलावर उजबेकिस्तान का नागरिक है, जो 2010 में अमेरिका में आया था

– ट्रक से एक नोट मिला, जिसमें लिखा था कि यह हमला आतंकी संगठन आईएस के कहने पर किया गया

About editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Cheap Soccer Jerseys - Where To Get Them
New World Cup Jerseys 2011
The Real Meaning Of Getting Discount Nfl Jerseys From China
Support Your Team With Mlb Dog Apparel And Accessories
Prepare For Hockey Season With Nhl Jerseys
Wolf Pack Unveils New Football Uniforms
What's Happened In Mlb On Hold?
How I Prepare For Penn State Home Football Games
Sports Themed Bedrooms - Football Bedroom Design Idea For Boys
Jay Cutler Saga Shows Lack Of Loyalty In Nfl
cheap jerseys
wholesale jerseys
cheap nfl jerseys
wholesale jerseys
cheap nba jerseys
wholesale nba jerseys
nba jerseys cheap
cheap jerseys