authentic sports jerseys cheap
cheap authentic stitched nfl jerseys
Wednesday , 25 March 2020 [prisna-bing-website-translator]
Breaking News

आईएफडब्ल्यूजे का 70वां अधिवेशन चेन्नई में सम्पन्न, पत्रकार सुरक्षा को लेकर केन्द्र करे बिल पास – के.विक्रम राव

आईएफडब्ल्यूजे के 70वें राष्ट्रीय अधिवेशन में परिषद प्रमुख के.विक्रमराव व अन्य।

आईएफडब्ल्यूजे के 70वें राष्ट्रीय अधिवेशन में परिषद प्रमुख के.विक्रमराव व अन्य।

चेन्नई, (प्रेम शर्मा)। इण्डियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट्स (आईएफडब्ल्यूजे) के राष्ट्रीय परिषद का 70वें अधिवेशन में महत्वपूर्ण चर्चा पत्रकार की सुरक्षा बिल को लेकर हुई। राष्ट्रीय अध्यक्ष के.विक्रम राव की अध्यक्षता में तय किया गया कि आगामी सत्र में इस बिल को पास कराए जाने का प्रयास किया जाएगा,ताकि देश का पत्रकार पत्रकारिता के जोखम भरे कार्य के दौरान बेझिझक अपने कार्य का सम्पादन कर सके।
एसआरएम युनिवर्सिटी के सभागार में चले चार दिवसीय अधिवेशन में पेश किए

आईएफडब्ल्यूजे के 70वें राष्ट्रीय अधिवेशन में कत्थक कला का प्रदर्शन।

आईएफडब्ल्यूजे के 70वें राष्ट्रीय अधिवेशन में कत्थक कला का प्रदर्शन।

गए मांग पत्र पर भी सहमति बनी। इसके तहत पत्रकार, फोटोग्राफर,कैमरामेन पर होने वाले हमलों में गैर जमानती धाराओं मेंं मुकदमें दर्ज किए जाए। बिना मुख्यमंत्री अथवा उनके नामित अधिकारी की अनुमति के किसी पत्रकार को हिरासत या जेल में न रखा जाए। कैशलेस मैडीक्लेम व विशेष बीमा एवं दुर्घटना बीमा केन्द्रीय सरकार द्वारा करवाया जाए। राज्यों की संवाददाता समितियों का पुनह गठित की जाए। पत्रकार,फोटोग्राफर,कैमरामेन एवं उनके परिजनों को रियायती या निशुल्क बस (सभी श्रेणी),रेलवे एवं वायुयान से यात्रा सुविधा उपलब्ध कराई जाए। वरिष्ठ पत्रकार जो

के.विश्वदेव राव ने सोशल मीडिया और आईएफडब्ल्यूजे की भूमिका पर डाला प्रकाश।

के.विश्वदेव राव ने सोशल मीडिया और आईएफडब्ल्यूजे की भूमिका पर डाला प्रकाश।

अधिवेशन में देश भर से आए पत्रकार साथी।

अधिवेशन में देश भर से आए पत्रकार साथी।

60 पार हो को 10 हजार रूपए मासिक सम्मान पेंशन उपलब्ध कराई जाए। प्रेस कैमरामैन एवं इलैक्ट्रोनिक्स मीडिया में कार्यरत पत्रकारों के उपकरणों का विशेष बीमा करने की व्यवस्था की जाए। राष्ट्रीय राजमार्गो पर स्वयं के वाहन से यात्रा करनेे पर टोल टैक्स से छूट दी जाए। पत्रकार,फोटोग्राफर व कैमरामेन को आवास भूखण्ड उपलब्ध कराए अथवा मकान रियायती दरों पर उपलब्ध कराएं जाए।
70वें अधिवेशन की शुरूआत कांचीपीठ के शंकराचार्य जगद्गुरू स्वामी जयेन्द्र सरस्वती के शुभाशीष के साथ एसआरएम युनिवर्सिटी प्रमुख एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष के विक्रमराव के दीप प्रज्जवलन के साथ हुई। के विक्रम राव के उद्बोधन के साथ आईएफडब्ल्यूजे उपाध्यक्ष गोपाल मिश्र ने पत्रकारिता प्रशिक्षण पर अपनी बात रखी।
अधिवेशन के द्वितीय में झारखण्ड से आए शाहनवाज ने झारखण्ड में युनियन के कार्यों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने सदस्यों के कार्ड आनलाईन करें है जो नेटवर्क के माध्यम से मुख्यालय से जुडे रहते हैं। इसी के साथ अभिजीत पाण्डेय पटना,बिहार एव एसं वीरभद्र राव विशाखापत्तनम ने राष्ट्रीय परिसंवाद पत्रकारों की सुरक्षा पर अपनी बात को दमदार तरीके से अधिवेशन में रखा। अधिवेशन में यह भी सामने लाया गया कि कौन-कौनसा देश पत्रकार की सुरक्षा पर गंभीर है। इसी के साथ तय किया गया कि राष्ट्रीय परिषद केन्द्र पर दबाव बनाकर देश के पत्रकार की सुरक्षा के प्रति बिल पास करवाने में अग्रणी भूमिका निभाते हुए पत्रकार सुरक्षा को लेकर सक्रिय रहे।

पत्रकारों की सुरक्षा एजेण्डे पर चर्चा के दौरान के.विक्रमराव मंच से उतर कर बैठे साथियों के बीच।

पत्रकारों की सुरक्षा एजेण्डे पर चर्चा के दौरान के.विक्रमराव मंच से उतर कर बैठे साथियों के बीच।

अधिवेशन में राज्यों से आए प्रतिनिधी मण्डल ने अपने-अपने राज्यों में युनिटों की कार्यप्रणाली एवं किए गए कार्य को लेकर रिपोर्ट राष्ट्रीय परिषद के सामने रखी।
अधिवेशन के दौरान चैन्नई घोषणा पत्र का मुख्य बिन्दु झीलों को स्वच्छ शुद्व एवं अतिक्रमण-मुक्त बनाए रखने की प्रतिबद्धता को ध्यान में रखकर 9 सुत्री कार्यक्रम में सहभागिता निभाते हुए राज्य सरकारों को सजग करने के प्रति जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाने पर अहम भूमिका निर्धारण करना सुनिश्चित किया गया।
कार्यक्रम के समापन के पश्चात देश भर से आए करीब 5 सौ डेलिगेट्स को साईड सीन कराते हुए कांचीपुरम एवं महाबलीपुरम घुमाया गया।
अधिवेशन में घोषणा की गई कि अक्टूम्बर के प्रथम सप्ताह में राजस्थान के जैसलमेर में राष्ट्रीय परिषद का तीन दिवसीय अधिवेशन आयोजित किया जाएगा जिसमें 5सौ डेलिगेट्स को सपरिवार आमंत्रित किया जाएगा। इसके पश्चात धनबाद में राष्ट्रीय परिषद का अधिवेशन होगा,जिसकी तिथि का खुलासा जैसलमेर अधिवेशन के दौरान होगा।

About editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*