authentic sports jerseys cheap
cheap authentic stitched nfl jerseys
Thursday , 6 August 2020 [prisna-bing-website-translator]
Breaking News

Disha Salian Death Case: Mumbai Police Urges Public To Share Information On Disha | सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद हरकत में मुंबई पुलिस, दिशा की मौत के 57 दिन बाद प्रेस नोट जारी कर लोगों से जानकारी मांगी

8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

सुशांत सिंह राजपूत से 6 दिन पहले 8 जून को दिशा सालियान की मौत हुई थी।

  • सुप्रीम कोर्ट ने बिहार, महाराष्ट्र सरकार से तीन दिन में सुशांत की मौत के मामले में जवाब मांगा है
  • कई लोग दिशा और सुशांत की मौत को जोड़कर देख रहे, इसलिए पुलिस ने दिशा से जुड़ी जानकारी मांगी

सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान के सुसाइड के 57 दिन बाद मुंबई पुलिस ने लोगों से उनसे जुड़ी जानकारी मांगी है। मालवानी पुलिस ने मराठी में एक प्रेस नोट जारी किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि अगर किसी के पास दिशा सालियान की एक्सीडेंटल डेथ से जुड़ी जानकारी हो तो वे मलाड में मालवानी पुलिस को उपलब्ध कराएं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 9 जून को 14वें माले से कूदकर दिशा ने सुसाइड किया था।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मांगी जानकारी

बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती की उस याचिका पर सुनवाई की, जिसमें उन्होंने अपने खिलाफ पटना में दर्ज केस को मुंबई ट्रांसफर कराने की अपील की थी। मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बिहार, महाराष्ट्र सरकार और सुशांत के पिता केके सिंह से 3 दिन में जवाब मांगा है। बताया जा रहा है कि इसी आदेश के बाद मुंबई पुलिस हरकत में आई और उन्होंने लोगों से दिशा से जुड़ी जानकारी साझा करने का आग्रह किया। क्योंकि कई लोग सुशांत की मौत को दिशा की मौत से जोड़कर देख रहे हैं।

रिया को गिरफ्तार करने से नहीं रोका जा सकता

सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान रिया चक्रवर्ती की उस अर्जी को खारिज कर दिया है, जिसमें उन्होंने अंतरिम राहत की मांग की थी। कोर्ट ने स्पष्ट रूप से कहा कि बिहार पुलिस रिया से पूछताछ कर सकती है। एडवोकेट ईशकरण सिंह भंडारी की मानें तो अंतरिम राहत की अर्जी अगर मंजूर हो जाती है तो अर्जी लगाने वाले को गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। लेकिन रिया की अर्जी नामंजूर हुई है, इसका मतलब है कि बिहार पुलिस अगर चाहे तो उन्हें गिरफ्तार भी कर सकती है।

सुप्रीम कोर्ट ने और क्या कहा

  • बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा, ‘एक गिफ्टेड और टैलेंटेड आर्टिस्ट (सुशांत सिंह राजपूत) चला गया। असामान्य हालात में उनकी मौत हुई। सच्चाई सामने आनी चाहिए।’
  • इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने बीएमसी द्वारा पटना सिटी एसपी विनय तिवारी को जबरन क्वारैंटाइन किए जाने पर रिएक्शन दिया। कोर्ट ने कहा कि बिहार पुलिस के अफसर को क्वारैंटाइन करने से अच्छा मैसेज नहीं गया, भले ही महाराष्ट्र पुलिस की प्रोफेशनल रेपुटेशन अच्छी हो।

14 जून को मृत पाए गए थे सुशांत सिंह राजपूत

14 जून को सुशांत बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में फंदे से लटके मिले थे। पोस्टमॉर्टम और विसरा रिपोर्ट में मौत की वजह फांसी के बाद दम घुटना बताई गई थी। 25 जुलाई को सुशांत के पिता केके सिंह ने पटना में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई, जिसमें उन पर सुशांत के साथ धोखाधड़ी और उन्हें आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया। इसके बाद रिया चक्रवर्ती ने केस को मुंबई ट्रांसफर कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी। साथ ही कोर्ट से अंतरिम राहत भी मांगी थी। एक ओर जहां सुप्रीम कोर्ट ने उनकी अर्जी ठुकरा दी है तो वहीं, बिहार सरकार ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की थी, जिसे बुधवार को केंद्र की मंजूरी मिल गई है।

0

Source link

About editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*