National

दिल्ली में मूसलाधार बारिश की आस… तो असम में बाढ़ से हालात बेकाबू, UP-बिहार में भी मचेगा प्रलय… IMD का अलर्ट

Weather Rain Update: देश के कई राज्यों में मूसलाधार बारिश हो रही है. इस बीच भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने रविवार को बिहार, उत्तर प्रदेश, असम, मेघालय, सिक्किम, महाराष्ट्र और अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया. जबकि उत्तराखंड के क्षेत्र में अत्यधिक भारी बारिश की उम्मीद जताई गई है, इसलिए मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है.

मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल के गंगा के तटवर्ती क्षेत्र, बिहार, मध्य महाराष्ट्र और गुजरात के कुछ इलाकों में बिजली गिरने के साथ तूफान आने की चेतावनी जारी की है. वहीं राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से बारिश हो रही है और मौसम विभाग ने आज आसमान में बादल छाए रहने और हल्की बारिश की संभावना जताई है. शनिवार को न्यूनतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस के साथ 27.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

पढ़ें- भारत के जोरावर से बचके रहना…पहाड़ों पर चीते सी तेजी, वजन उड़ा देगा होश, चीन की अब खैर नहीं!

बिहार में भारी बारिशबिहार में पिछले कुछ दिनों से बारिश हो रही है और इसी के चलते मौसम विभाग ने राज्य के लिए अलर्ट जारी किया है. आज जिन जिलों में बारिश हो सकती है उनमें भागलपुर, पटना और पूर्णिया शामिल हैं. बिहार में बार-बार आने वाली बाढ़ जैसी स्थिति के लिए दीर्घकालिक समाधान खोजने के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक उच्च स्तरीय समिति गठित की गई है. पीटीआई के अनुसार, पांच सदस्यीय पैनल ने मंत्री को केंद्र सरकार द्वारा तैयार की गई चल रही और प्रस्तावित बाढ़ प्रबंधन और नियंत्रण परियोजनाओं के बारे में जानकारी दी.

उत्ताखंड-हिमाचल में बारिश से हाल बेहालउत्तराखंड में जारी भारी बारिश के कारण कई दुखद घटनाएं हुईं, जिनमें देहरादून में बारिश के पानी से भरे गड्ढे में पांच साल का बच्चा डूब गया और हरिद्वार में एक किशोर की नाले में डूबने से मौत हो गई. भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन के कारण बद्रीनाथ जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग सहित प्रमुख सड़कें अवरुद्ध हो गईं, जिससे पहाड़ी राज्य में और भी संकट पैदा हो गया. इस बीच, हिमाचल प्रदेश में भी भारी बारिश हुई, जिसके कारण 64 सड़कें बंद हो गईं. क्षेत्रीय मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में कांगड़ा, कुल्लू, किन्नौर, मंडी, सिरमौर और शिमला जिलों के कई इलाकों में मध्यम बाढ़ के खतरे की चेतावनी जारी की है.

असम में बाढ़ से हालात बेकाबूअसम में बाढ़ की स्थिति गंभीर स्तर पर पहुंच गई है, जिससे 29 जिलों में लगभग 22 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. प्रमुख नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं, जिससे संकट और भी बढ़ गया है. असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने डिब्रूगढ़ में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया, जो गंभीर रूप से प्रभावित जिलों में से एक है. जहां उन्होंने समुदायों पर विनाशकारी प्रभाव को प्रत्यक्ष रूप से देखा.

बाढ़ ने वन्यजीवों को भी प्रभावित किया है, जिसमें 77 जंगली जानवरों की मौत की सूचना है और 94 को जलमग्न काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान से बचाया गया है. मुख्यमंत्री ने डिब्रूगढ़ में जलभराव और बिजली की कमी जैसे मुद्दों पर समीक्षा की. इस साल की बाढ़, भूस्खलन और तूफान से कुल हताहतों की संख्या 62 हो गई है, जबकि तीन लोग अभी भी लापता हैं. धुबरी, दरांग और कछार जैसे जिले सबसे अधिक प्रभावित हैं, जहां हज़ारों लोग विस्थापित हुए हैं और उन्हें तत्काल सहायता की आवश्यकता है.

Tags: Mausam News, Weather forecast, Weather Update

FIRST PUBLISHED : July 7, 2024, 06:22 IST

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Uh oh. Looks like you're using an ad blocker.

We charge advertisers instead of our audience. Please whitelist our site to show your support for Nirala Samaj